28 June, 2009


100 th post

सब से पहले मै आप सब से इस बात के लिये क्षम माँगना चाहती हूँ कि मै कई दिन से नियमित रूप से आपके ब्लोग पर नहीं आ पा रही हूँ1बस एक दो दिन बाद मै नियमित हो जाऊँगी1आज ये मेरी 100 वीं पोस्ट है और मै ये पोस्ट अपने छोटे दामाद श्री ललित सूरी को समर्पित करना चाहती हूँ1बेशक आप सब के लिये ये एक मामूली बात हो मगर मेरे लिये ये बहुत अहम है क्योंकि जिन प्रिस्थितियों से हमारा परिवार गुजरा है उसमे ऐसी कलपना करना ही मुमकिन नहीं फिर भी मेरे पति की कर्मनिष्ठा और बच्चों की मेहनत ने आज मेरी बेटियौ को इस ऊँचे मुम्काम पर पहुँचाया है और अपने परिवार की प्रेरणा से मैं भी कलम पकडने की हिम्मत जुटा पायी हूँ1

बेटियों का होना अभी भी समाज मे जिस नजर से देखा जाता है उस से मैँ भी अछूति नहीं थीबहुत कुछ देख सुन और भुगत कर कई बार मन बहुत दुखी हो जाता1 मगर भगवान की दया से मुझे दामाद बहुत अच्छे मिले 1

नवम्बर्2008 मे मेरी छोटी बेटी की शादी श्री ललित सूरी से हुई थी ललित एम बी ए के बाद सैम सँग कम्पनी मे एरिया मैनेजर हैं और मेरी बेटी भारत बिजली मे सेल्ज मैनेजर है बडी दोनो बेटियों के ससुराल जाने पहचाने परिवार थे बडी बेटी ने एम एस सी मैथ और उससे छोटी ने एम सी ए की है दोनो के पती सोफ्ट वे. इजनियर हैं मगर ललित का परिवार दिल्ली मे था हमारी कोई जानपहचान नहीं थी एक अनजाना सा डर कि पता नहीं बाद मे क्या होगा ? फिर भी दोनो परिवारों मे एक बार मिलने से ही लगने लगा कि जैसे बहुत पुरानी जान पहचान हो1 रिश्ता और फिर 7माह बाद शादी हो गयी 1जब ललित शादी के बाद पहली बार मेरे घर आये तो मुझे एक पल को भी नहीं लगा घर मे नये दामाद आये हैं बच्चों की तरह मेरे आगे पीछे जहाँ तक कि रसोई मे भी मेरे पास खडे रहना मा ये बनाओ--- मा वो बनाओ--- और मेरे पति तो जैसे ललित को पा कर फूले नहीं समाते हैं----उनको भी पूरी हिदायतें कि पापा आप धूप मे ना घूम करो आप ऐसे किया करो वैसे किया करो----कहने का भाव ये कि अपना बेटा भी शायाद इतना ध्यान ना रखता हो जितना ललित को हमारी चिन्ता रहती है रोज फोन पर भी बडी देर तक बात करना उसकी हमारे प्रति निष्ठा का परिचायक है1 रिश्तों के प्रति बहुत संवेदन्शील हूँ1 बहुत रिश्ते खोये हैं भगवान के हाथों--बस इन बच्चों ने सब कुछ भुला दिया है 1

हाँ अब असली बात तो आज की पोस्ट की हो रही थी 1ललित जब पहली बार मेरे पास नन्गल आये थे तो मैने इन से ब्लोग्गि की चर्चा की बस एक घँटे बाद मेरा ब्लोग बन कर तयार हो गया था 1 25 नव.को मुझे मेरा बर्थडे गिफ्ट दिया था ललित ने1

पर मुझे तो कम्पयूटर की ए बी सी भी नहीं आती थी मगर ललित ने एक दिन मे मुझे गुजारे लायक सिखा दिया मेरा काम शुरू हो गया जो नहीं पता लगता था वो मैं फोन करके पूछ लेती थी नहीं तो मेरे घर मे कम्पयूटेर का इतना ही काम था के अमेरिका मे रह रही बेती से याहू मेसेन्जर पर बाते करती थी वो भी बच्चों ने डेस्क टाप पर सब कुछ रख छोडा था मुझे क्लिक करना सिखा दिया था1

अब धीरे धीरे आप सब के और आशीश खण्डेलवाल जी के सहयोग से कई कुछ सीख गयी हूँ1

आज ललित ने टिकटें ही कटा कर भेज दी थी सो दिल्ली आना पडा मेरी बेटी का जन्म दिन था इस लिये आज ये पोस्ट भी दिल्ली से ही लिख रही हूँ अभी अभी बाहर से डिनर कर के लौटे हैं बच्चों के साथ खुश हूँ 1

आज ललित की वजह से ही मुझे इतना बडा ब्लोग जगत का परिवार मिला है आप सब का स्नेह पा कर भी अभिभूत हूँ शायद इस काबिल नहीं थी जितना आप सब से प्यार और सहयोग मिला है सब से अधिक जिन लोगों ने मुझे सहयोग दिया उनमे श्री प्रकाश सिह अर्श श्री आशीश ख्ण्डेलवालजी नीरज गोस्वामी जी राज भाटिया जी दिगम्बर नास्वाजी जिन्हो ने समय समय पर मुझे सहयोग दिया और मेरा उत्साह वर्धन किया मै उन सभी की धन्यवादी हूँ-- ( सब का नाम ले कर लेख को बडा नही करना चाहती )जो रोज मुझ पर अपना स्नेह बरसाते हैं और मेरा उत्साहवर्धन भी करते हैं1

आज अर्श से माफी चाहती हूँ कि मैने उस से वादा किया था कि मै दिल्ली आ रही हू और उस से मिलूँगी मगर गर्मी और समयाभाव के कारण मिल नहीं पाई 1जल्दी जल्दी मे लेख को अच्छे ढंग से लिख नहीं पायी इस समय रात के दो बजने वाले हैं जाते जाते आप सब का एक बार तहे दिल से धन्यवाद करती हूँ और अपने बच्चों के लिये आपका आशीर्वाद चाहती हूँ1ौर चाहती हूँ कि ललित जैसा दामाद हर बेटी वाले को मिले और इनके परिवार जैसा हर परिवार हो

42 comments:

राज भाटिय़ा said...

नमस्कार निर्मला जी सब से पहले आप की बेटी को जन्म दिन की खुब सारी बधाई, फ़िर ललित जी को धन्यवाद कि उन की वजह से आज हमे एक पंजाबी ब्लागर मिली. ओर फ़िर आप को बहुत बहुत बधाई आप की सॊ भी पोस्ट की.
धन्यवाद

Udan Tashtari said...

ललित जी को सलाम और आपको १०० वीं पोस्ट की बहुत बहुत बधाईयाँ एवं ऐसे ही कई शतकों के लिए शुभकामनाऐं.

M VERMA said...

सेंचुरी के लिये बधाई.

डा प्रवीण चोपड़ा said...

ललित जी, तुसीं ग्रेट हो, यह बात उन तक पहुंचा दीजियेगा। आप को अपनी 100वीं पोस्ट की बहुत बहुत बधाई। और बच्चों के लिये बहुत बहुत आशीर्वाद।
लेख बहुत अच्छा था।
बहुत बहुत शुभकामनायें।

Vivek Rastogi said...

आपके परिवार को हमारी भी शुभकामनाएँ ।

विवेक सिंह said...

आपने काफ़ी तेज सेन्च्युरी मारी है !

बहुत बहुत बधाइयाँ !

संगीता पुरी said...

सौवीं पोस्‍ट के साथ ही साथ दामाद के रूप में बेटा प्राप्‍त कर लेने की लिए भी बहुत बहुत बधाई !!

AlbelaKhatri.com said...

DIVAS RAIN BARSAA KARE

KHUSHIYON KI RASDHAAR

DIVAS RAIN PHOOLE-PHALE

AAPKA GHAR- PARIVAAR
_______________

bahut bahut dili badhaai !

aapne bahut si khushiyan ek saath

dee hain ....

aaj k din ki shuraat bahut achhi

kee hai

-albela

ओम आर्य said...

बहुत बहुत बधाई..............और क्य कहे ...............भगवान आपकी लेखनी को ताकत दे दिन दुन्ना रात चौगुन्ना..........

अनिल कान्त : said...

आपकी बेटी को जन्मदिन की बधाईयाँ, आपकी सौवी पोस्ट पर आपको बधाई और ललित जी के बारे में बताया तो अच्छा लगा

Pt.डी.के.शर्मा"वत्स" said...

निर्मला जी, हमारी ओर से आपके समस्त परिवार को एक उज्ज्वल भविष्य हेतु शुभकामनाऎं.....100 वीं पोस्ट की आपको कोई बधाई नहीं दे रहा हूं. हम तो आपको सिर्फ 1000वीं पोस्ट की ही बधाई देंगे. लिखती रहिए.........

गिरिजेश राव said...

लिखेद सहस्र शतम

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक said...

हृदयस्पर्शी आलेख के साथ
100वीं पोस्ट की बहुत-बहुत बधाई।

"अर्श" said...

सादर प्रणाम,
सबसे पहले तो आपको ब्लॉग जगत में आपको आपकी सौवीं पोस्ट के लिए दिल से बहोत बहोत बधाई... मगर इसका सारा श्रेय जनाब ललित सूरी जी को जाता है उनका तो मैं और ये सारा ब्लॉग जगत हमेशा के लिए आभारी रहेंगे...जनाब ललित जी जिस तरह से आपका ख़याल रखते है वो एक दामाद तक की बात नहीं है वो तो आपके बेटे से कमतर नहीं है ... भगवान् उन्हें खूब सुखी रखें और दीर्घायू प्रदान करें..आज के समय में बेटी और बेटों में कोई फर्क नहीं है और जहां इतनी संस्कार में पली बढ़ी बेटी और उत्तम दामाद हो तो बेटों की ये पूरी कसार पूरा करते है ... आप बहोत भाग्यशाली है के आपको सूरी साहिब मिलें ,इनदोनों के उज्जवल भविष्य के लिए ऊपर वाले से हमेशा ही विनती करूँगा... के ये हमेशा ही आपके पास रहें और आपका प्यार और आर्शीवाद इनको प्राप्त होता रहे अमृत की तरह ... आपकी सबसे छोटी बेटी को उनके जन्म दिन पे लाखो शुभकामनाएं मेरे तथा मेरे परिवार के तरफ से ... अल्लाह मियाँ आपको अछा स्वास्थ्य और लम्बी उम्र बक्शे .... आभार और दिल से शुभकामनाएं ...

आपका
अर्श

ताऊ रामपुरिया said...

सबसे पहले तो आपको सौवीं पोस्ट के लिये बधाई. आपकी खुशियां दिन दूनी और रात चोगुनी होती रहे..बहुत अच्छा लगा आपके बारे मे जानकर...आपके पूरे परिवार को बहुत बहुत शुभकामनाएं.

रामराम.

दिगम्बर नासवा said...

निर्मला जी आप इतना मन को choone vaala लिख रही हैं jiskaa jawaab नहीं तो padhne waale तो आपको chaahenge ही. आप की बेटी को जन्म दिन की खुब सारी बधाई, ललित जी का भी धन्यवाद कि उन की वजह से आप सब के saamne aa paayeen ओर आप को बहुत बहुत बधाई 100 post poori होने की

●๋• सैयद | Syed ●๋• said...
This comment has been removed by the author.
●๋• सैयद | Syed ●๋• said...

सबसे पहले तो आपको, आपकी बच्ची के जन्मदिन की और आपके पोस्ट के शतक की हार्दिक बधाई....

..ललित जी के बारे में जानकर अच्छा लगा

June 28, 2009 2:26 AM

प्रवीण शुक्ल (प्रार्थी) said...

सादर प्रणाम और आपकी सौवी पोस्ट के लिए बहुत बहुत शुभ कम्नाये और दीदी को उनके जन्म दिन पर बहुत बहुत बधाई
सादर
प्रवीण पथिक
9971969084

‘नज़र’ said...

बहुत-2 बधाइयाँ और शुभकामनाएँ।

---
चाँद, बादल और शामगुलाबी कोंपलें

Shefali Pande said...

badhai.....100 post kee aur aapkee itnee sundar bhavnaon ke lie

Shefali Pande said...

badhai.....100 post kee aur aapkee itnee sundar bhavnaon ke lie

उन्मुक्त said...

सौवीं चिट्ठी प्रकाशित करने की बधाई। आप ऐसी ही लिखती रहें।

बिटिया रानी और दामाद जी दोनो बहुत स्मार्ट हैं।

महेन्द्र मिश्र said...

१०० वी पोस्ट पर बहुत बहुत बधाई और शुभकामना . ऐसी ही लिखती रहें .

SWAPN said...

nirmala ji , 100 th post ke liye aapko 100 baar shubhkaamnaayen. aapko snehil aur uttam rishton ke liye bhi badhai.

nirmala ji, delhi men to main bhi arsh ke saath aapse milna chahta tha, aapne do ummed........

punah badhai

Mired Mirage said...

शतक बनाने के लिए बधाई।
घुघूती बासूती

M.A.Sharma "सेहर" said...

निर्मला जी
आपको सौवी पोस्ट पर और इतना सुन्दर परिवार होने पर बहुत बधाई..

बेटियाँ तो लाखो में ऐक होती है इसमें कोई शक नहीं..

और मां कहती है - "दामाद के रूप में हमे बेटा तो मिल ही जाता है !!!"

आपके के हृदय की ममता व स्नेह तो मैं महसूस कर चुकी हूँ ,बनाऐ रखियेगा !!

सादर !!

आशीष खण्डेलवाल (Ashish Khandelwal) said...

सौंवीं पोस्ट पर बधाई स्वीकार करें.. आपके सुखी परिवार की खुशियां बढ़ती जाएं..ललित जी का आभार कि उनकी वजह से आपसे परिचय का सौभाग्य मिला..

आशुतोष दुबे "सादिक" said...

बहुत बहुत शुभकामनायें।

sada said...

सबसे पहले तो आपको दोनों बातों के लिये बहुत-बहुत बधाई,मन को छू लेने वाले शब्‍द हों तो क्‍या कहने,कितनी बार पढ़ लो पर मन नहीं भरता, बस ईश्‍वर से यही प्रार्थना है, आप यूं ही अपने परिवार में हंसी-खुशी समय व्‍यतीत करें, और व्‍यस्‍तता में भी हम सबको याद रखें ।

G M Rajesh said...

aapko badhaai

aapne aa dekhen jaraa par tippani ki thi iska dhanywaad

uska agla ank aaj likh rahaa hun

डॉ. मनोज मिश्र said...

आपको बहुत -बहुत बधाई, इसी तरह आप सारी संख्याओं को पार करती रहें .

Harkirat Haqeer said...

निर्मला जी ,

ललित जी को ढेरों आशीष एवं स्नेह ....बेटी को जन्मदिन की ढेरों शुभकामनायें .....और आपको १०० पोस्ट की बधाई ....!!

पंजाब की खुशबू में भी डालें कुछ ....!!

kabeeraa said...

सौवीं पोस्ट के लिए बधाई , बच्चों को स्नेह दुलार |
अर्थ-यथार्थ पर आगमन का आभारी हूँ

vandana said...

100th post ke liye dheron badhaiyan.......aapki beti aur damad bhi utne hi badhayi ke patra hain.......unhein bhi hamari shubhkamnayein dijiye aur aage bhi aise hi likhte rahiye.

Hiteshita Rikhi said...

All I can say is-you are great poet,writer and above all a super mother and woman! Many thanks to Lalit too who took this initiative to start this blog.keep doing the good work :-)I am so lucky and proud to be ur daughter!

सुरेन्द्र "मुल्हिद" said...

nirmala ji,
bahut he acha share kiya hai aapne, ishwar kari aapki family yuin he ekjut rahey aur pyaar baant ti rahey....

श्रीश प्रखर said...

१००वी पोस्ट के साथ-साथ आप १०० साल जियो भी.....असीम शुभकामनायें....

कुलवंत हैप्पी said...

पहले तो बी-लेट हैप्पी डे स्वीकार करें और दूसरी आपकी पोस्ट शानदार थी। तीसरी बात दामाद बेटे तो ज्यादातर बन जाते हैं, लेकिन ज्यादातर बहूएं बेटियां नहीं बन पाती।

कुलवंत हैप्पी said...

happy birthday in advance because of your post is old

sajid said...

सेंचुरी के लिये बधाई

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक said...

निर्मला जी ,

ललित जी को ढेरों आशीष एवं स्नेह ....बेटी को जन्मदिन की ढेरों शुभकामनायें .....
--
सौंवीं पोस्ट पर बधाई स्वीकार करें..

पोस्ट ई मेल से प्रप्त करें}

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner