26 November, 2010

ब्लाग की सालगिरह --

ब्लाग की सालगिरह 

आज मेरे ब्लाग की दूसरी सालगिरह है। 2008 मे मैने ब्लाग लेखन शुरू किया था। पहले वर्ष की अपेक्षा इस वर्ष ब्लाग पर सक्रियता कुछ कम रही। इसमे से 3 माह तो अमेरिका प्रवास मे लग गये कुछ समय बाकी पारिवारिक गतिविधियों मे लग गया, इस लिये इस साल मे केवल 109 पोस्ट ही डाल सकी। 109 पोस्ट पर 4268 कमेन्ट मिले। फालोवर की संख्या 221 तक पहुँची। मेरे जैसी अल्पग्य के लिये ये उपलब्धि भी कोई कम नही। इस वर्ष परिकल्पना ब्लागोत्सव की तरफ सेवर्ष 2010 की श्रेष्ठ कहानी कार का सम्मान मिला। मुझे तो ये आभासी दुनिया बहुत रास आयी बहुत से रिश्तेमिले स्नेह मिला, मार्गदर्शन मिला। सब का नाम गिनाऊँ तो पोस्ट बहुत बडी हो जायेगी। आप सब मेरी ऊर्जा हैं।  आपसब के स्नेह और मार्गदर्शन के लिये सब की आभारी हूँ।आज अपनी सब से पहली रचना- ज़िन्दगी { कविता} पेश कर रही हूँ लेकिन कुछ शुद्धियों के साथ, तब मुझे टाईप करना नही आता था उस दिन इस कविता को टाईप करने मे मुझे 2 घन्टे लगे थे।
उन सभी का तहे दिल से शुक्रिया करती हूँ जिन्होंने कल मेरे जन्मदिन पर मुझे बधाईयाँ और शुभकामनायें भेजी।
लेकिन एक दुख की बात है कि मेरे ब्लाग की सालगिरह पर 26/11 की दुर्घटना का इतिहास जुड गया है। इस दुर्घटना मे मारे गये सभी शहीदों को मेरी विनम्र श्रद्धाँजली।



खिलते फूल सी मुसकान है जिन्दगी
समझो तो बडी आसान है जिन्दगी

खुशी से जिओ तो सदा बहार है जिन्दगी
दुख मे बस तलवार की धार है जिन्दगी

पतझड बसन्तों का सिलसिला है जिन्दगी
कभी इनयतें तो कभी गिला है जिन्दगी

कभी हसीना सी चाल सी मटकती है जिन्दगी
कभी सूखे पत्तों की तरह  भटकती है जिन्दगी

आगे बढने वालों के लिये तो पैगाम है जिन्दगी
भटकने वालों की मैयखाने मे गुमनाम है जिन्दगी

निराशा मे जी का जन्जाल है जिन्दगी
आशा मे मधुर संगीत  सी सुरताल है ज़िन्दगी

कहीं मखमली बिस्तर पर सोती है जिन्दगी
कभी फुटपाथ पर नंगी पडी रोती है जिन्दगी

कभी होती थी दिलबर-ए- यार जिन्दगी
आज चौराहे पे खडी हैशर्मसार जिन्दगी

सदिओं से माँ के दूध की पह्चान है जिन्दगी
उसी औरत की अस्मत पर बेईमान है जिन्दगी

वरदानो मे अच्छा दाऩ क्षमादान है जिन्दगी
बदले की आग मे होती शमशान है जिन्दगी

खुशी से जीओ चन्द दिन की मेहमान है जिन्दगी
इबादत करो इसकी दोस्तो  भगवान है जिन्दगी

91 comments:

रचना said...

aap ko badhaii

आशीष खण्डेलवाल (Ashish Khandelwal) said...

ब्लॉग की दूसरी सालगिरह पर ढेरों बधाइयां..

हैपी ब्लॉगिंग

रश्मि प्रभा... said...

sabse pahle badhaai phir kahun ki bahut achhi shraddhanjli

डॉ॰ मोनिका शर्मा said...

Dher saari badhaiyan... shubhkamnayen

नीरज जाट जी said...

वैसे तो आप मेरी मां तुल्य हैं लेकिन मैं आपसे बीस दिन बडा हूं। हा हा हा
आज के निराशावादी युग को ध्यान में रखकर बहुत ऊर्जादायी कविता है।

PN Subramanian said...

लो हमें तो पता ही नहीं चला कि कल आपका जन्म दिन था. कोई बात नहीं अब दिए देते हैं ढेर सारी बधाईयाँ. ब्लॉग के जन्म दिन की भी बधाई. आपकी श्रद्धांजलि बड़ी प्यारी लगी.

इस्मत ज़ैदी said...

ब्लॉग के २ वर्ष पूरे होने पर हार्दिक बधाई स्वीकार करें
निर्मला जी अगर आप अल्पज्ञ हैं तो मैं तो निरक्षर की श्रेणी में आती हूं ,अल्लाह से दुआ है कि सभी आप जैसे अल्पज्ञ हो जाएं

निर्मला कपिला said...

अशीश जी आज आपको बहुत देर बाद देख कर जितनी खुशी हुयी बता नही सकती। इस सफर मे आपका सब से बडा योगदान रहा है। धन्यवाद आपका।

संगीता स्वरुप ( गीत ) said...

निर्मला जी ,

सबसे पहले आपको आपके जन्मदिन की बधाई ...एक दिन देर हो गयी ...

आज आपके ब्लॉग की सालगिरह की आपको मुबारकबाद ...

ज़िंदगी के फलसफे को विस्तार से बताने के लिए आभार ...

निर्मला कपिला said...

नीरज! केवल 20 दिन? बीस साल बोलो बेटा ।

भारतीय नागरिक - Indian Citizen said...

बधाई और शुभकामनायें.

एस.एम.मासूम said...

निर्मला जी आप को इस खूबसूरत ब्लॉग की सालगिरह मुबारक हो.
यह कलाम दिल को छु गए.
कहीं मखमली बिस्तर पे सोती है ज़िंदगी
कहीं फुटपाथ पे नंगी पडी रोटी है ज़िंदगी.

मुंबई मैं रहने वाला इस बात को शायद बेहतर समझ सकता है

उपेन्द्र said...

Kapila ji aapko dher sari Badhaldi ho

Vijay Kumar Sappatti said...

aadarniya nirmala ji

pahle to blog ke do baras poore hone ki badhayi .. aur ye kavita bhi bahut acchi likhi hai aapne ..

aap ki tabiyat ab theek hai na..

aap aur likhe aur ham aur aapko padhe bas yahi dua karta hoon ishwar se..

vijay
kavitao ke man se ...
pls visit my blog - poemsofvijay.blogspot.com

sada said...

सबसे पहले तो ब्‍लाग के दो वर्ष पूरे होने पर ढेर सारी बधाई ...


बहुत ही सुन्‍दर रचना है यह ...यह लेखन निरन्‍तर यूं ही चलता रहे ...इन्‍हीं शुभकामनाओं के साथ्‍ा ।

केवल राम said...

आगे बढने वालों के लिये तो पैगाम है जिन्दगी
भटकने वालों की मैयखाने मे गुमनाम है जिन्दगी
सच मैं यही है जिन्दगी ...
बहुत बहुत बधाई .....आपका लेखन अनवरत चलता रहे ...और आपका मार्गदर्शन निरंतर ब्लॉग जगत के लोगों को मिलता रहे ...बस यही दुआ है ....
आपने लिखा है कल आपका जन्मदिन था .....इसके लिए भी आपको ...ढेरों शुभकामनायें
शुक्रिया

Majaal said...

पहली रचना के हिसाब से तो बहुत जबरदस्त हो गयी ये ;)
शुभकामनाएँ , लगे रहिये ....

Mukesh Kumar Sinha said...

Nirmala di.......bahut bahut badhai...aapke blogging ke do saal pure hone ke liye...:)

waise ye sachchai hai ki aap ham jaiso ke liye meel ka paththar ho, beshak sayad maine bhi 2008 me bhi blog banaya tha.......kisi ko dekh kar...:)

bahut bahut badhai fir se..!

अन्तर सोहिल said...

हार्दिक शुभकामनायें
"खुशी से जीओ चन्द दिन की मेहमान है जिन्दगी
इबादत करो इसकी दोस्तो भगवान है जिन्दगी"

ये पंक्तियां बहुत पसन्द आयी

प्रणाम

anshumala said...

निर्मला जी

एक दिन की देरी हो गई जन्मदिन की बधाई मुझसे आज स्वीकार करे साथ ही ब्लॉग के दो वर्ष पूरे करने की भी बधाई |

आप की पहली पोस्ट ही बहुत ही अच्छी है |

वाणी गीत said...

भगवान् का वरदान ही है जिंदगी ...जिसे नफरत में गंवाना फजूल है ...
ग़ज़ल में जिंदगीनामा अच्छा लगा ...

ब्लॉग की दूसरी सालगिरह की बहुत बधाई !

मनोज कुमार said...

दीदी,
पहले तो जन्म दिन की बधाई।
फिर ब्लॉग की साल गिरह की बधाई।
फिर आपके और आपके ब्लॉग के जन्‍मदिन से 365 दिन की एक नई यात्रा फिर से शुरू होती है । आपकी ये यात्रा मंगलमय और खुशियों से भरी हो।

Tausif Hindustani said...

कहीं मखमली बिस्तर पर सोती है जिन्दगी
कभी फुटपाथ पर नंगी पडी रोती है जिन्दगी

कभी होती थी दिलबर-ए- यार जिन्दगी
आज चौराहे पे खडी हैशर्मसार जिन्दगी

ब्लॉग की दूसरी सालगिरह पर Dabir News की जानिब से ढेर सारी बधाई
dabirnews.blogspot.com

ajit gupta said...

निर्मला जी, सबसे पहले तो आपको जन्‍मदिन की बधाई। पता ही नहीं चला नहीं तो मैं आपको फोन करके बधाई देती। अब आपको ब्‍लाग के जन्‍मदिन की बधाई। पहली और इतनी अच्‍छी कविता की भी बधाई। हाँ एक बात और, हम आभासी नहीं हैं, हम तो साक्षात हैं। पता नहीं किसने यह शब्‍द दिया है, मुझे समझ नहीं आता? भूत प्रेत होते हैं आभासी, हा हा हाहा।

Vandana ! ! ! said...

निर्मला जी जन्मदिन व ब्लॉग के दो साल होने की खुशी पर हमारी तरफ से भी बधाई स्वीकार करे. २६/११ तो सबको पता है, मगर दुनिया में हर पल इतनी सारी घटनाएं होती रहती है कि उनके बार में सोचने लगे तो हम आई हुई खुशियों को भी अनदेखा कर देंगे. शायद इसीलिए जीवन बढते रहने का नाम है.

Udan Tashtari said...

बहुत बहुत बधाई एवं अनेक शुभकामनाएँ.

Indranil Bhattacharjee ........."सैल" said...

दूसरी सालगिरह मुबारक हो ...इसी तरह आप हर साल उत्तम रचनाएँ परोसते रहे जिनका आनंद हमें मिले ... आपकी पहली रचना भी अति उत्तम है ...

संजय भास्कर said...

ब्लॉग की दूसरी सालगिरह की बहुत बधाई !
बहुत बहुत बधाई एवं अनेक शुभकामनाएँ.

शिक्षामित्र said...

आपका सान्निध्य हमेशा बना रहे,यही कामना है।

वन्दना said...

ब्लोग की सालगिरह की हार्दिक बधाई आप इसी तरह निरन्तर लिखती रहें और हमे लाभान्वित करती रहें।
जन्मदिन की एक बार फिर हार्दिक बधाई।

'उदय' said...

... badhaai va shubhakaamanaayen !!!

सोमेश सक्सेना said...

ब्लॉग की दूसरी सालगिरह की हार्दिक बधाई| कविता सुंदर है।

यशवन्त said...

ब्लॉग के २ वर्ष पूरे होने पर बहुत बहुत बधाई!


सादर

Dorothy said...

ब्लाग की दूसरी साल गिरह के लिए ढेरों बधाईयां स्वीकारें. दिल को छूने वाली, खूबसूरत और मर्मस्पर्शी प्रस्तुति. आभार.
सादर,
डोरोथी.

M.A.Sharma "सेहर" said...

Nirmala ji aapkee janamdin ke saath saath ...Blog kee saalgirah kee bhee bahut badhayiia..!!

Aap isee tarah sneh nyochhawar kartee rahen ...ishwar aapko uttam swasthy ke saath deerghauu kare .

snehakanshii

Apkee Sehar

shikha varshney said...

अरे कल आपका जन्मदिन था? ओह हो एक दिन देरी हो गई पर कोई बात नहीं शुभकामनाओं के लिए कभी देरी नहीं होती :) ऐसा सुना है :)
तो सबसे पहले जन्मदिन की बहुत बहुत बधाई.
फिर ब्लॉग दिवस की बहुत बहुत बधाई.
और फिर सुन्दर रचना की बहुत बहुत बधाई.:)

दिगम्बर नासवा said...

बहुत बधाई आपको ... आज के दिन अमन का पैगाम ही सच है .... केवल सच ....

रंजना said...

वाह !!! खूब सुन्दर रचना...

सालगिरह पर बहुत बहुत बधाईयाँ ..

सार्थक लेखन के लिए शुभकामनाएं !!!!

किलर झपाटा said...

कविता बहुत उम्दा लगी आपको बहुत बहुत बधाई।

arvind said...

badhai ho...blog ke dusare salgirah par subhkaamnaayen.

फ़िरदौस ख़ान said...

ब्लॉग की सालगिराह मुबारक हो...

अरविन्द जांगिड said...

ईश्वर से प्रार्थना है कि आपकी लेखनी बस यूँ ही चलती रहे....शुभकामनाएं

अजय कुमार झा said...

आपको बहुत बहुत बधाई और शुभकामनाएं

हमारी तरफ़ से अपने इस प्यारे ब्लॉग को कहिएगा ..happy bithday to you .....

रंजना [रंजू भाटिया] said...

बहुत बहुत बधाई और शुभकामनाएं

Kunwar Kusumesh said...

ज़िन्दगी को अलग अलग तरह से परिभाषित करके आपने कविता का आकर्षण बढ़ा दिया है

रचना दीक्षित said...

ब्लॉग की दूसरी सालगिरह पर ढेरों बधाइयां. एक सन्देश देती रचना जिंदगी में नए रंगों की तलाश है जिंदगी

सुज्ञ said...

निर्मला जी ,

सर्प्रथम आपको आपके जन्मदिन की बधाई!! देरी के लिये क्षमा!!

आज आपके ब्लॉग की दूसरी सालगिरह की आपको शुभकामनाएं, सदैव आपका ब्लोग शुभ विचारो को प्रसारित करता रहे।

26/11 के बलिदानियों को श्रद्धा-सुमन!!

ताऊ रामपुरिया said...

सफ़ल और शानदार ब्लागिंग के दो वर्ष पूर्ण करने पर हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं.

रचना बहुत ही सुंदर.

रामराम.

ZEAL said...

.

ब्लॉग के दो वर्ष पूरे होने की उपलब्धि पर आपको बधाई !
शहीदों को विनम्र श्रद्धांजलि

.

डॉ टी एस दराल said...

निर्मला जी , पहली पोस्ट में ही जिंदगी का सार समझा दिया । बहुत खूब ।
सालगिरह के लिए बधाई ।
जन्मदिन का तो पता ही नही चला । बहुत बहुत शुभकामनायें ।
रोहतक में आपसे मुलाकात न हो सकी ।

सुबीर रावत said...

जन्मदिन की लाख लाख बधाई निर्मला जी. और ब्लॉग पर दो साल से लगातार आँखे फोड़ने के लिए भी........... कविता बहुत कुछ कह जाती है. और आपकी कविता तो मासल्लाह कम शब्दों में ही दुनियां जहाँ को समेट ले रही है..........सुन्दर रचना के लिए आभार.

पं.डी.के.शर्मा"वत्स" said...

हैप्पी बर्थडे टू "वीर-बहूटी" :)
आपको भी ब्लाग के सफलतापूर्वक संचालन हेतु बहुत बहुत बधाई!!!

Bhushan said...

आपके जन्मदिन की और ब्लॉग के जन्मदिन की बहुत बहुत बधाई. आपका जीवन और लेखन खुशियों से भरा रहे.

सतीश सक्सेना said...

आप का स्नेह ब्लॉगजगत को ऐसे ही मिलता रहे यही कामना है ! सफल ब्लागर होने की बधाई स्वीकारें !
आदर सहित

श्रद्धा जैन said...

Pahli rachna hamesha dil ke qareeb rahti hai .. aapke blog ka safar achcha raha hai ye jaankar achcha laga..

Sunil Kumar said...

ब्लॉग की दूसरी सालगिरह पर ढेरों बधाइयां..

Vivek Rastogi said...

बहुत बहुत बधाई ।

शाहिद मिर्ज़ा ''शाहिद'' said...

निर्मला जी, जन्मदिन और ब्लॉगिंग के दो साल पूरे होने पर आपको बहुत बहुत बधाई.
इस मौके पर आपका कलाम भी बहुत उम्दा रहा.

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) said...

सक्रियता के साथ जालजगत पर दो साल परे करने के लिए बहुत-बहुत बधाई!
--
आपसे हमें भी प्रेरणा मिलती है!

मो सम कौन ? said...

ब्लॉग की दूसरी सालगिरह की बहुत बहुत बधाई।
और आपके जन्मदिन की भी विलंबित बधाई। आप सरीखे बड़ों का सान्निध्य मिलता रहे, यही आकांक्षा है।

mridula pradhan said...

shubhkamnayen.rachna khoob achchi lagi.

चला बिहारी ब्लॉगर बनने said...

निम्मो दी! आज आपकी पोस्ट में एक बुज़ुर्ग नहीं दो साल की बच्ची नज़र आई... अपनी उपलब्धियों के खिलौने सबको दिखाते और बिल्कुल ईमानदारी से स्वीकार करते हुए कि तब मुझे टाइप करने में दो घण्टे लगे... मगर जब कविता पढी तो लगा कि कविता का हर छंद एक इतिहास कह रहा है उस लम्बे अनुभव की जो आपने हमसे साझा किया है. बस आपके आशीष की छाँव सालहा साल बनी रहे, यही हमारी कामना है!!

राजीव भरोल said...

ब्लॉग की सालगिरह ही बहुत बहुत बधाई..
गज़ल बहुत अच्छी लगी..

चैतन्य शर्मा said...

अरे वाह आपके ब्लॉग को ..... हैप्पी बर्थ डे टू यू ........

Arvind Mishra said...

वीर बहूटी की दूसरी सालगिरह मुबारक हो ....

उन्मुक्त said...

निर्मला जी, दूसरी सालगिरह पर आपको बधाई और आपके जस्बे को सलाम।
मुझे लगता है कि आपके पास कितना ऊर्जा है दूसरे को उत्साहित करने की, अपनी प्यारी टिप्पणी देने की।

प्रमोद ताम्बट said...

बहुत बहुत बधाई और शुभकामनाएँ।

प्रमोद ताम्बट
भोपाल
व्यंग्य http://vyangya.blog.co.in/
व्यंग्यलोक http://www.vyangyalok.blogspot.com/
फेसबुक http://www.facebook.com/profile.php?id=1102162444

अजय कुमार said...

ब्लाग की सालगिरह मुबारक हो ,आपके ब्लाग के माध्यम से हम आशीर्वाद लेते रहेगे

Girish Billore 'mukul' said...

प्रणाम एवम
हार्दिक बधाईयां
नेटकास्टिंग:प्रयोग
लाईव-नेटकास्टिंग
Editorials

डा. अरुणा कपूर. said...

ब्लॉग की सालगिरह ही बहुत बहुत बधाई..
आपके जन्मदिन की भी
बधाई।

Priyankaabhilaashi said...

हार्दिक शुभकामनाएँ..!!

ज्ञानचंद मर्मज्ञ said...

सालगिरह की ढेर सारी शुभकामनायें !
-ज्ञानचंद मर्मज्ञ

वीना said...

सबसे पहले देरी के लिए क्षमा चाहती हूं...कल आपका जन्म दिन भी था और आज ब्लॉगिंग की दूसरी वर्षगांठ....ढेर सारी शुभकामनाएं व बधाई। और इतनी सुंदर रचना के लिए भी बहुत-बहुत बधाई...

ज्ञानचंद मर्मज्ञ said...

आपकी कविता ज़िन्दगी का फ़लसफ़ा है !
-ज्ञानचंद मर्मज्ञ

बंटी चोर said...

जाने ताऊ पहेली १०२ का सही जवाब :
http://chorikablog.blogspot.com/2010/11/blog-post_27.html

सोमेश सक्सेना said...

निर्मला जी आपके फालोअर की संख्या मैने 221 से 222 कर दी है, याने के ट्रिपल टू। है न बढ़िया अंक।
पुन: बधाई।

kshama said...

Dheron badhayi!
Rachana to bahut hee sundar ban padee hai!

खुशदीप सहगल said...

निर्मला जी,
मुझे व्यस्तता के चलते यहां आने में देर हुई...इसलिए पहले तो माफ़ी मांगता हूं...

ऐसेी सालगिरह बस बस बार आती रहें और आपको पढ़ कर हम निहाल होते रहें...

पूरे ब्लॉगवुड को आपका आशीर्वाद मिलता रहे, बस यही ईश्वर से प्रार्थना है...

जय हिंद...

rashmi ravija said...

ब्लॉग के दूसरे सालगिरह की ढेरों बधाइयां.
आपको भी जन्मदिन की अनंत शुभकामनाएं...(मैं दस दिनों से नेट से दूर थी...इसलिए समय पर शुभकामना नहीं दे सकी )

सुमन'मीत' said...

सालगिरह की बहुत बहुत शुभकामनाएं.................

Anjana (Gudia) said...

saalgirah ki bahut bahut shubhkaamnayeh... aur jivan pe likhi gayi yeh rachna behad khoobsurat hai.. bahut sunder seekh jine ke liye... saadar

stop smoking said...

I love your blog lots of useful information. I've added it to my favorite bookmarks and subscribed in a reader.

All these issues are important, and that's why I just started blogging a while ago and it feels great.

Kind Regards
Evelina


stop smoking
quit smoking

Abhishek Mishra said...

ब्लॉग जगत में लंबे अरसे के बाद मेरी वापसी और आपके ब्लॉग की सालगिरह का संयोग काफी सुखद है. सालगिरह की बधाई.

प्रवीण पाण्डेय said...

आपको बहुत बधाई, सुन्दर कविता।

Kajal Kumar said...

दो साला बधाई जी.

Mrs. Asha Joglekar said...

ब्लॉग के दो वर्ष पूरे होने पर बधाई । ईश्वर करे आप की लेखनी नित नये सोपान चढे ।

Amit K Sagar said...

वाह! ये रचना जितना उम्दा लगी उससे कहीं बढ़कर जिंदगी को इक़ सार्थक सन्देश भी दे रही है. ज़िंदगी...वाह!
जारी रहें.
---
कुछ ग़मों के दीये

Babli said...

ब्लॉग के दूसरे सालगिरह पर ढेर सारी बधाइयाँ और शुभकामनायें! बहुत सुन्दर और लाजवाब रचना लिखा है आपने!

abhi said...

काफी लेट हो गया मैं, लेकिन फिर भी मेरी बधाई एवं शुभकामनाएं स्वीकारें.. :)

ये आभासी दुनिया तो मुझे भी बहुत रास आई है... :)

देवेन्द्र पाण्डेय said...

जिंदगी के हर फलसफे को ढूंढने का अच्छा प्रयास।

Anonymous said...

1000 facebook likes
buy facebook likes

http://www.macygray.com/node/243 http://home.fueltracker.com/content/gas-prices-reach-25-month-high-southern-california
get facebook likes facebook likes 1000 facebook likes
Today i opened itunes and noticed that some of my songs wont play. its like they dont exist. If i double click on them it doesn't do anything. If 1 song that does work goes to the next song (one that doesnt) it will just skip over it. I can play those songs that dont work in itunes in windows media player. Also when i tried importing some of the songs into sony vegas 8 it says to make sure i have permission and that the file is not corrupt (something like that), and it wont let me import those songs. Idk if this has anything to do with it but right now i dont have a anitvirus program. Please someone help. If you know how to contact apple let me know. and yes i already went on there website, but there is no email support.

buy facebook likes get facebook likes [url=http://1000fbfans.info]buy facebook likes [/url] 1000 facebook likes

पोस्ट ई मेल से प्रप्त करें}

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner