07 December, 2008






मुझे कुछ पता नही कि मैं क्या हूं,
कभी जर्रा तो लगता कभी खुदा हूं
फुर्सत मिली ही नहीं अपनी तलाश की,
कभी इधर कभी उधर भटकती सदा हूं
कभी नर्मियां मिली तो कभी तल्खियां,
पतझर बसन्तों की अदा हूं
मै उन की मन्जिल ना सही रास्ता तो हूं,
इच्छाओंकी मजबूरी फर्जों का तकाजा हूं
जीना तो दुनियां में इक रस्म क तरह् है,
उन रस्मों का सदका अरमानों की चिताहूं
रस्में ना निभाउं तो खुदा भी न माफ करेगा,
दुनियां कोसेगी खुदा की खता हूं
जिन्दगी ने इस मुकाम पर पहुंचा दिया निर्मल,
भटके हुए राही की मन्जिल का पता हुं
जोर से हंस के दबा देती हुं सिस्की रूह की,
खुद ही दर्द हूं मैं खुद ही दवा हूं

6 comments:

रंजना said...

जोर से हंस के दबा देती हुं सिस्की रूह की,
खुद ही दर्द हूं मैं खुद ही दवा हूं

Waah ! Bahut sundar bhavabhivyakti hai.

MANVINDER BHIMBER said...

मुझे कुछ पता नही कि मैं क्या हूं,
कभी जर्रा तो लगता कभी खुदा हूं
फुर्सत मिली ही नहीं अपनी तलाश की,
कभी इधर कभी उधर भटकती सदा हूं
bahut khoob

Nirmla Kapila said...

helo ranjna thax adhi comp/ aperate karnaa nahi aata bachon se phon per poochh-2 kar seekh rahi hoon is liye adhik nahi likh paati aajkuchh seekha hai to thnx kah rahi hoon please co-operate meaap ka blog kuchh para kya khoob likhti hain aap mene to retirement ke baad likhna shuru kya .thnx again

Nirmla Kapila said...

helo ranjna thax adhi comp/ aperate karnaa nahi aata bachon se phon per poochh-2 kar seekh rahi hoon is liye adhik nahi likh paati aajkuchh seekha hai to thnx kah rahi hoon please co-operate meaap ka blog kuchh para kya khoob likhti hain aap mene to retirement ke baad likhna shuru kya .thnx again

Yogita said...

"mujhe kuchh pata nahi"...
pata hai par phir bhi pata nahi.. likhna aapko achha aata hai...
dil ko bha jata hai....
hum aapki shayari mein is kadar doob jaate hain....
ke hamara to doodh hi ubal jata hai..
kabhi kabhi masala bhi sarh jata hai..
'O bhayi'..wakayi kamal di shayari hai.

सुजाता said...

आप जल्द कम्प्यूटर सीख लें और शानदार तरीके से लिखना शुरु करें।अपना ब्लॉग ब्लॉगवाणी blogvani.com पर रजिस्टर भी करवाएँ ताकि ज़्याद लोग इस तक पहुँच पाएँ।
शुभकामनाएँ ।
CHOKHER BALI
sandoftheeye.blogspot.com

पोस्ट ई मेल से प्रप्त करें}

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner