26 September, 2010

पा ती अडिये बाजरे दी मुठ

कृप्या मेरी आज की पोस्ट यहाँ पढें। मै अपने इस ब्लाग को अपडेट कर रही हूँ। धन्यवाद।http://veeranchalgatha.blogspot.com/
धन्यवाद्।

8 comments:

Udan Tashtari said...

ओके

हास्यफुहार said...

बहुत अच्छी प्रस्तुति।

मनोज कुमार said...

दीदी, अभी वहां से होकर आता हूं।

महफूज़ अली said...

अभी वहां से होकर आता हूं।

ताऊ रामपुरिया said...

जाते हैं जी वहां पर.

रामराम

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) said...

सूचना के लिए आभार!

MUFLIS said...

"ਪਾ ਤੀ ਅੜੀਏ ਬਾਜਰੇ ਦੀ ਮੁਟ੍ਠ"

ਵੇਖ ਲਈ ਹੈ ਜੀ ਬਾਜਰੇ ਦੀ ਮੁਟ੍ਠ
ਅਤੇ
ਚਿੜਿਯਾਂ,, ਕਬੂਤਰ ... ਚੁਗਣ ਵੀ ਆ ਗਏ ਨੇ ਜੀ

ਗੁਰਪ੍ਰੀਤ ਹੋਰਾਂ ਨੂੰ ਮੇਰੇ ਵੱਲੋਂ ਮੁਬਾਰਕਾਂ

दिगम्बर नासवा said...

Achhaa likha hai aapne ... abhi padh kar a raha hun ...

पोस्ट ई मेल से प्रप्त करें}

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner